pacman, rainbows, and roller s
30 सितंबर 2010 आदरणीय ब्लाँगर साथियोँ
आपके अपने और देश के पहले हिन्दी मोबाइल ब्लाँग एग्रीगेटर चिट्ठाप्रहरी को पिछे छोङकर जाने का समय आ गया है । आप लोगो द्वारा हमे महत्व न दिए जाने के कारण हमे ये फैसला लेना पङा । पिछले एक माह से भी ज्यादा समय तक अपना प्यार और विश्वास हमपर बनाए रखने के लिए आपका धन्यवाद । दोस्तो बङे ही उम्मीद के साथ इस एग्रीगेटर को लाँच किया गया था ,पर सभी टिम सदस्यो द्वारा आपसी सहमती से इसे बन्द किया जा रहा है । अगर आप लोग बन्द करने का कारण जानना चाहते है तो ये हम लोग जरुरी नही समझते ,और ना ही हम ये चाहते हैँ कि चन्द लोगोँ की वजह से किसी की भावनाओ को ठेस पहुचे ।
आपकी अपनी
चिट्ठाप्रहरी टिम
विज्ञापन-